तुला राशि राशिफल 2017

0

नौकरी और व्यवसाय

2017 का तुला राशिफल बतलाता है कि नौकरीपेशा लोगों के लिए यह वर्ष अच्छा रहने वाला है। अपने विरोधियों को पछाड़कर आप आगे बढ़ेंगें। सेल्स और मार्केटिंग से जुड़े लोग अपने ग्राहकों से लच्छेदार बातचीत करके काम निकालने में सफल रहेंगे। जो लोग नौकरीपेशा हैं उन्हें प्रोमोशन के साथ-साथ कोई अतिरिक्त ज़िम्मेदारी भी मिल सकती है जहाँ उनका रुतबा बढ़ जायेगा। अगर आपका ट्रांसफर होता है, तो उसे स्वीकार कर लें क्योंकि आगे इससे आपको बहुत लाभ मिलने की संभावना है। व्यावसायिक प्रगति के लिए समय अनुकूल है। व्यापारी वर्ग इस वर्ष किसी नए कार्य में धन निवेश करें तो उन्हें लाभ प्राप्त होगा। परंतु साल के अंत में कोई बड़ा निवेश करने से बचे। पैसों के लेन-देन में भी सतर्कता बरतें क्योंकि किसी भरोसेमंद व्यक्ति से धोखा मिल सकता है। शेयर बाजार से जुड़े जातकों के लिए समय अच्छा नहीं है। भावनाओं में बहकर किसी भी प्रकार का निवेश करने से बचें। साल के मध्य से आपको अच्छी प्रगति मिलने की संभावना है।

(3.5/5)

आर्थिक स्थिति

आर्थिक मामलों के लिए यह साल संतोषजनक लग रहा है। साथ ही धन प्राप्ति के योग भी बने हुए हैं। धन कमाने के लिए आप खूब प्रयास करेंगे। तुला भविष्यफल के अनुसार 2017 में आर्थिक प्रगति के लिए आप कोई नई योजना सोच सकते हैं। कोई पुराना उधार दिया धन अचानक वापिस मिलने की भी संभावना है। आमदनी हेतु आपके द्वारा किये गए प्रयास रंग ला सकते हैं। विदेश या दूर स्थल से धन लाभ होने की भी संभावना है।

(3/5)

शिक्षा

छात्रों को कड़ी मेहनत के लिए तैयार रहना चाहिए। वैसे इस समय आपकी बौद्धिक शक्ति काफी अच्छी रहेगी। करियर का चुनाव करने के लिए आप विशेषज्ञों की सलाह लेंगे एवं इस दिशा में फैसला लेने के लिए सक्रिय रहेंगे। अपने शिक्षकों से भी आपको सहयोग मिलने की संभावना है। शिक्षा में मनपसंद क्षेत्र का चुनाव करने के लिए साल के मध्य से समय अनुकूल है। जो विद्यार्थी पढ़ाई हेतु विदेश जाना चाहते हैं, उनको अपने प्रयास तेज़ कर देने चाहिए। तुला के लिए 2017 का फलादेश इंगित कर रहा है कि प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी व उच्च शिक्षा प्राप्त कर रहे जातकों के लिए यह समय अधिक परिश्रम करने का है।

(4/5)

पारिवारिक जीवन

परिवार में किसी सदस्य का स्वास्थ्य ख़राब रहने से आपका धन ख़र्च होगा। भाई-बंधुओं से आपका कोई बड़ा विवाद संभव है। आपका मन अनायास ही चिंतायुक्त रहेगा। इस कारण तुला राशि के जातक अकारण ही मानसिक रूप से परेशानी महसूस कर सकते हैं। रिश्ते-नातेदारों से दूरियाँ बन सकती हैं। किसी भी अनैतिक कार्य से दूर रहने में ही भलाई है। धार्मिक मामलों में आपकी दिलचस्पी बढ़ सकती है। किसी के साथ अचानक झगड़ा हो सकता है। मौन रहने का प्रयास करें, इसी में आपकी भलाई है। वाहन चलाते समय सतर्क रहें, क्योंकि चोट लगने की संभावनाएं अधिक हैं। पिता का स्वास्थ्य चिंता का विषय बन सकता है। माता एवं परिवार के साथ संबंध थोड़े तनावपूर्ण रह सकते हैं। जीवनसाथी के साथ किसी भी प्रकार की बहसबाज़ी से बचें। वर्ष के दूसरे भाग से हालात बेहतर होने शुरू होंगे।

(2.5/5)

प्रेम संबंध

प्रेम संबंधों के मामले में थोड़ा देख संभल कर चलने का समय है। इस अवधि में गलतफहमियों के कारण आपके संबंधों में तनाव आ सकता है। तुला के लिए 2017 के फलकथन पर ग़ौर करें और किसी प्रिय पात्र के साथ प्रेम प्रस्ताव रखने के विचार को फ़िलहाल स्थगित कर दें। अपने रिश्तों में आपको किसी चीज़ की कमी लगातार महसूस होती रहेगी। शादीशुदा लोग अपने जीवनसाथी को अधिक समय नहीं दे पायेंगे। अपनी वाणी पर विशेष ध्यान रखें क्योंकि आपका पार्टनर आपकी बातों का गलत अर्थ निकाल सकता है। एक दूसरे की जिम्मेदारियों को निभाने में पूरा-पूरा सहयोग दें इससे आप दोनों में आपसी समझ पैदा होगी। विवाह के इच्छुक लोगों को हाल-फिलहाल उत्तम जीवनसाथी पाने में थोड़ी रुकावटें आ सकती हैं।

(3/5)

स्वास्थ्य

स्वास्थ्य के मामले में आपको थोड़ा सा संभलकर चलने की जरुरत है। वैदिक ज्योतिष के आधार पर तैयार किए गए 2017 के तुला राशिफल के अनुसार कार्यों की अधिकता की वजह से आप शारीरिक तौर पर कमज़ोरी व थकान अनुभव करेंगे। मौसम के बदलाव से पैदा होने वाली बिमारियों के प्रति सतर्क रहें। मोटापे से पीड़ित लोगों को मांसपेशियों में दर्द की शिकायत रह सकती है। छोटी-छोटी बिमारियों को नजरअंदाज करने की भूल न करें। रोजमर्रा के कार्यों से छुट्टी लेकर आप कहीं घूमने जाने का मन बना सकते हैं। जो लोग लंबे समय से बीमार हैं,उन्हें अपनी सेहत का ख़ास ख़याल रखना चाहिए। योग एवं ध्यान पर विशेष जोर देना चाहिए। इससे आपकी काफी समस्याएँ दूर हो सकती हैं।

(3.5/5)

उपाय

  • पक्षियों को नियमित दाना डालें व उनके लिए पीने के पानी की व्यवस्था करें।
  • शुक्रवार के दिन छोटी कन्याओं को ख़ीर खिलाएँ।
  • शनिवार को काली वस्तुएँ, काला कपड़ा, काली दाल का दान करें।
  • शिव जी व भैरव जी की नियमित पूजा करना फायदेमंद रहेगा।
  • गरीब लोगों की यथासंभव मदद करें।
Loading...

Leave a Reply